Sadhvi's writings


परिवर्तन

परिवर्तन, जीवन का एक स्थिर सत्य है--तांडव ऋंखला का २५वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

“मैं हुँ ना!”

"चिंता मत करो, मैं हुँ ना।" गुरु के यह दिव्य शब्द बड़ी से बड़ी...

Avatar of sadhvi shraddha om

आज्ञा और सेवा

गुरु की आज्ञा और सेवा परम सौभाग्य से प्राप्त होती है — तांडव ऋंखला...

Avatar of sadhvi shraddha om

आतिथ्य

किसी अपरिचित को आतिथ्य प्रदान करना मानवता का एक विशिष्ट गुण होता हैं- तांडव...

Avatar of sadhvi shraddha om

पूजा में प्रेम

पूजा में मंत्रों से अधिक, आराध्य के लिये प्रेम होना चाहिए !

Avatar of sadhvi shraddha om

भक्ति का रंग

कैसा भी हो, चढ़ता ही है--तांडव ऋंखला का २०वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

भावनाओं में परिवर्तन

भावनाओं में क्षण भर का परिवर्तन भी मन की दिशा बदल देता है —...

Avatar of sadhvi shraddha om

सरलता

भक्ति का एक नाम सरलता भी है--तांडव ऋंखला का १८वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

वरदान

कभी कभी ईश्वर भी बिना तपस्या के वरदान देते है--तांडव ऋंखला का १७वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

भावनायों की अभिव्यक्ति

क्या वास्तव में भावनायों की अभिव्यक्ति से सम्बंध सुदृढ़ होते है?-तांडव ऋंखला का १६वाँ...

Avatar of sadhvi shraddha om

निपुण अध्यक्षता

निपुण अध्यक्षता ही एक सभा को एक भव्य समारोह में बदल सकती है।

Avatar of sadhvi shraddha om

निःस्वार्थ सेवा

निःस्वार्थ सेवा से ईश्वर आपको स्वयं का स्वरूप देने के लिये बाध्य हो जाते...

Avatar of sadhvi shraddha om

उत्सव

संघर्ष के बाद जीवन में उत्सव के भी पल आते है-तांडव ऋंखला का १३वाँ...

Avatar of sadhvi shraddha om

अकारण तनाव

अकारण तनाव की अग्नि आनंद को भस्म कर देती है--तांडव ऋंखला का १२वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

अकारण प्रसन्नता

अकारण प्रसन्नता ईश्वर का आशीर्वाद होती है---तांडव ऋंखला का ११वाँ प्रकरण

Avatar of sadhvi shraddha om

The community is here to help you with your spiritual discovery & progress. Be kind & truthful! Some pointers to get good answers:

Author Name

Author Email

Your question *