1.दो कप गेहूं के आटे में एक छोटी चम्मच नमक, एक छोटी चम्मच अजवाइन ड़ाले।
2.एक कप मैदा एक कप आटा ले सकते है या फिर दो कप मैदा भी ले सकते हैं।
3. तीन बड़े चम्मच तेल ( एक चौथाई कप) को अच्छी तरह आटे में मिलाये।
4.धीरे-धीरे पानी डालते हुए मुलायम आटा गूथे। है आटा यदि सख्त होगा तो कचौरिया तलते समय फट जाएगी ।
5. दस मिनट के लिए गीले कपड़े से ढक कर रख दें ।
6.दो बडे चम्मच साबुत धनिया, 4 साबुत लाल मिर्च, एक चम्मच काली साबुत मिर्च,एक चम्मच जीरा मिक्सी में दरदरा पीस लें।
7. चार आलू को उबालने के बाद अच्छी तरह ठंडे कर ले ।
8. आलू को कद्दूकस कर लें ।
9. कढ़ाई में एक चम्मच घी डालकर इस मसाले को हल्का भुने।10. गैस की आंचं हल्की रखें ।
11. मसाले में खुशबू आने पर 3 बड़े चम्मच बेसन डालकर भूने।
12.एक चौथाई चम्मच हींग, एक चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक ,2 हरी मिर्च बारीक कटी हुई भूनकर आलू डाल दे।
13. लाल मिर्च पाउडर ,थोड़ा सा गरम मसाला , आधा चम्मच जीरा पाउडर, हल्दी आधा छोटी चम्मच, स्वाद बढ़ाने के लिए आधा छोटी चम्मच काला नमक ,आधा छोटी चम्मच अमचूर पाउडर या आधा नींबू का रस , हरिया धनिया डालकर ठंडा होने के लिए रख दे।
13.अब आलू के मिश्रण की नींबू के आकार की छोटी-छोटी गोलियां बना लें(हाथ पर तेल लगाकर)।
14. आटे के नींबू से थोड़े बड़े पेड़े बना ले।
15. आटे के एक पेड़े को लेकर अंगूठे से बीच में दबाकर कटोरी का आकार बनाएं ।किनारे पतले और बीच का भाग मोटा होना चाहिए।
15. अब आलू की गोली लेकर उस में रखकर अच्छी तरह मोदक की तरह बनाये, व अतिरिक्त आटे को उसी में अच्छी तरह दबा दे,जिससे वह तलते हुए खुले नही।
16. पेड़े को बीच से हल्का दबा दें जिससे आलू का मिश्रण चारों तरफ एक समान फैल जाए ।
17.उंगलियों की सहायता से थपथपाते हुए धीरे-धीरे उसका आकार बढ़ाइए.
18.तलने से पहले कचोरी को तीन अँगुलियों की सहायता से बीच से हल्का दबाये।
18. सब कचोरिया भरकर तैयार कर ले ।
19.तेल को बिल्कुल हल्का गर्म करें जैसे पीने योग्य गुनगुना पानी।
20. आटे का टुकड़ा कढ़ाई में डाल कर देखिए बुलबुले नहीं आने चाहिए ।
21.कचौरी तेल में एक साथ चार- पांच डालें जिससे घी का दबाव उनको फूलने में सहायता करेगा और रंग अच्छा आएगा।
22. जब वह हल्की-हल्की फूलने लगे और ऊपर आने लगे तो धीरे-धीरे उनके ऊपर चम्मच से गर्म तेल डालते रहे( कढ़ाई का) ।
23.कचौरी नीचे से हल्की सुनहरी होने पर धीरे से चम्मच की सहायता से पलटते ।
24.अब आंच को थोड़ा सा बढ़ा सकते हैं और उलट-पलट के दोनों ओर से सुनहरा तलें ।
25. लीजिए तैयार है सुनहरी ,खस्ता और करारी आलू की खस्ता कचौड़ी।आलू खस्ता 😋 2
ध्यान रखने योग्य —— दोबारा कचौरिया तलने के लिए गैस को बंद करके तेल को ठंडा कर ले।
चाय ,कॉफी के साथ या आलू की चटपटी सब्जी के साथ परोसे।
           ।। श्री हरि भगवान की जय।।🙏🙏

Pay Anything You Like

Karuna Om

Avatar of karuna om
$

Total Amount: $0.00