आ अब लौट चलें 1

अप्पू राजा अप्पू राजा

Come on come on

Play with me आजा

मेरे दिल का है तू राजदुलारा

ऐसे बैठा ना कर तू थका-हारा, अकेला।

 

तेरे वजन से टूट न जाए यह डाली

मालूम है मुझे, दर्द ने किया है तुझे सुस्ती

आ साथ में करते हैं भांगड़ा और सालसा,

बस, अब बहुत हो चुका तेरा नखरा।

 

Sorry baba, बंद करती हूँ मैं बकवास,

जानता है तू, मेरे दिल का है तू खास।

 

मालूम है मुझे बहुत दुःखी तो है तू

सोच रही हूँ कैसे पोछू तेरे आँसू

हरेभरे जो साथी थे तेरे,

अब नहीं हैं वह साथ तुम्हारे।

 

तुम्हे देखकर दिल रोता है रे पगले

पीठ फेरकर ना बैठ मेरे लाडले।

एक दिन शोभा कहते थे जिसे,

इन जुल्मी लोगों ने निकाल लिए गजदंत तुम्हारे।

 

भगवान का रूप, कहते है तुझको,

पूजते और आरती करते है देखो।

फिर क्यो बेड़ियों में जकड़कर,

खून से रंगते हैं, हाथ ये देखो।

 

आ ले जाती हूँ मैं तुम्हें, घर तुम्हारे

राह देख रहे होंगे बिछड़े साथी बेचारे।

भूल कर भी कभी यहाँ वापस आना नहीं,

मतलबी दुनिया, तुम्हे मार ना डाले कहीं।

 

लौट जा, मस्तमगन हो जा

नीले आकाश तले, झील झरनों से मिल जा गले।

आपने सपने तू सजा ले फिर से

ऊठ, आ अब लौट चलें।

Pay Anything You Like

Suchali Lotlikar

Avatar of suchali lotlikar
$

Total Amount: $0.00