#TheWriteChoice 

 

यह इश्क़ ना जीने देगा
यह इश्क़ ना मरने देगा
यह इश्क़ ही क्या
जहाँ पियाला ना पिया
यह नशा ही क्या
जहाँ तड़प ना हो
यह जाम है मोहोब्बत का
पियो इस कदर
जहाँ होश का भी होश ना हो
मदहोश हो जाऊं इस इश्क़ में
ना दुःख ना सुख
दोनों बराबर ही महसूस हों
शम्मा का दीवाना इस कदर
ना शाम ढले
ना सूरज खिले
सब और बस तुम और में
यूँ एक जैसे
समंदर में नदी हो जैसे
ना जाने वह पल
कब और किस घडी आएगा
सोचते ही सोचते
सोचती हूँ की वक़त ना बीत जाये
और हम मिटटी हो जाएँ
ऐ चाँद और सितारे
गगन और पृथ्वी
ज़रा पहुंचा दो संदेसा हमारा
एक हम हैं
जो राह ताक रहे हैं
हर पल हर दिन
हर शाम हर सवेरा
ज़रा हमारी भी सुध ले लो ज़रा
हम भी है आपके अपनो में
यूँ बेहोस
यूँ बेख़बर अपने आप से
सुन ज़रा ओ सुन ज़रा
सुन लो ज़रा !!

 

Jai Sri Hari 🙏🌸

 

Love💖

~Neelam Om