1.—————दर्द —————-

जिंदगी में कभी-कभी दर्द बर्दाश्त की हद पार कर
जाते हैं,
हार जाती है हिम्मत इतनी कि आंखों से आंसू तक ना
बह पाते हैं…
गुजारने मुश्किल के कुछ लम्हें भी मानो एक लम्बी
सज़ा बन जाते हैं,
जिंदगी में कभी-कभी दर्द बर्दाश्त की हद पार कर
जाते हैं…
– Shivani 1-★

कुछ कविताएं मेरी क़लम से ✍️✍️ 1

2.——–भाग्य भरोसे——–

भाग्य भरोसे मत रहिए
बिना किए कोई कर्म..
फल की अभिलाषा मत रखिए..
भाग्य का ऐसा खेल है कि..
आज राजा तो कल नौकर भी बना सकता है…
किसने देखा है भविष्य को,
यह पल में सबक सिखा सकता है..
याद रखें कर्म ही है असली जीवन धन..
कर्म के भरोसे जो रहोगे,
कभी ना धोखा खाओगे तुम…

कुछ कविताएं मेरी क़लम से ✍️✍️ 2

 

 

3.———तुम्हें सौंपते हैं——–

तुम्हें सौंपते हैं
तुम्हें सौंपते हैं..
यादें उन लम्हों की जो हमने एक साथ थे बिताए,
किए हुए अपने वादों में से तुम एक भी ना निभा पाए!!!?
मैंने तो बस तुम्हारा साथ ही चाहा था,
मैंने कहां तुमसे कुछ और मांगा था?
तुम तो मेरी बातें तक ना समझ पाए,
दिल के दर्दो को तुम्हें बताने का,फिर क्या ही फायदा था?
अच्छा हुआ कि हम दोनों के रास्ते अब जुदा हो गए,
तुमने तो रास्ता बदलते ही नए दोस्त भी बना लिए…
मैंने भी कई रास्ते हैं बदल दिए,
और चाहती हूं कि जिन रास्तों में हम दोनों थे ,
वो रास्ते अब कभी ना मिले….
वो रास्ते अब कभी ना मिले….
Shivani Puri

कुछ कविताएं मेरी क़लम से ✍️✍️ 3

मुझे बताएं कि आपको कोनसी कविता अच्छी लगी… और कोनसी कविता आपकी जिंदगी से जुड़ी हुई है!!

मुझे मेरी गलतियां भी बताएं ताकि मैं और भी अच्छा लिख सकूं और इसी प्रकार जिंदगी में आगे बढ़ती जाऊं..🙏🙏

यदि आप किसी विषय पर कविता पढ़ना चाहते हैं तो मुझे बताएं…. मैं जल्द से जल्द ही उस विषय पर कविता लिखकर आपके साथ सांझा करूंगी.…..

कृपया मुझे मौका दें… मुझे आपके सहयोग की बहुत ज़रूरत है 🙏🙏

  • कृपया मुझे सहयोग दें 🙏🙏

Notes[+]

Pay Anything You Like

Gorvi Sharma

Avatar of gorvi sharma
$

Total Amount: $0.00