“डर क्या डर जरूरी है” यह सवाल नहीं हकीकत है। अगर आपको सफलता पाना है। अपने जीवन में कुछ करके दिखाना है। तो डर रखना भी आवश्यक है। डर इस बात का रखो कि कहीं में गिर कर उठू ना। डर इस बात का रखो कि कहीं मैं हार ना मान लू। डर इस बात का रखो की कोई और तुम्हें ना डर आए। परंतु डर को इतना भी जगह नहीं देना चाहिए। कि वह आपका घमंड बन जाए। जिस प्रकार अधिक मीठा खाने से मीठा भी अपना स्वाद छोड़ देता है तथा वह हमे सामान्य लगता है। अर्थात कोई भी चीज सीमित मात्रा में ही सही रहती है उसी प्रकार डर को अपनी जिंदगी में या अपने जीवन में सीमित तौर पर ही रखना चाहिए। इस बात से संपूर्ण निष्कर्ष यह निकलता है कि डर का भी आधार है हमारे जीवन में और जीवन के लक्ष्य में । डर हमारे जीवन का जीवन का ही अंग है अतः हमें इसे भी महत्व देना चाहिए। परंतु कहने का मतलब यह नहीं है कि डर सही है इंसान को निडर भी होना चाहिए। लेकिन कई कई स्थानों में कई जगहों में हमें डर का सामना भी करना पड़ता है तब हमें या भाप लेना चाहिए कि वह डर हमारी ताकत हो।

Pay Anything You Like

Aditya

Avatar of aditya
$

Total Amount: $0.00