स्वीट स्वीट लड्डू , कुरकुरीत चकली , खमंग चिवडा , खारी बुंदी , नमकीन सेव इन सब दिवाली मिठाई में से मुझे स्वादिष्ट मुलायम अनारसा सबसे अधिक पसंद है ।

अनरसा एक प्रकार का मीठा व्यंजन है जो चावल के आटे, खसखस और चीनी से बनाया जाता है । यह दीपावली का विशेष व्यंजन है और सामान्यतः महाराष्ट्र में अधिक प्रचलित है । गोल गोल चपटी टिकियों के आकार में ये उपलब्ध होते हैं । अनरसा खाते समय कुरकुरे के साथ साथ अन्दर से मुलायम होते है जिनका स्वाद एकदम अलग होता है । चाय के साथ तो ये और भी स्वादिष्ट लगते हैं ।

बाजार में मिलने वाली मिठाई में वो स्वाद और प्रेम नहिं जो घर पर बने मिठाई में होता है । हम ज्यादा करके दिवाली के व्यंजन घर पर हि बनाते है । अनारसा सहसा बाहर से मंगवाते है क्योंकी मेरे घर में किसी ने यह व्यंजन बनाने का प्रयत्न नहिं किया ।

पिछले साल दिवाली में मैंने घर पर हि अनारसा बनाने का विचार किया । यूं तो मैं खाना बनाने के मामले में बिलकुल अनपढ़ हूं और मुझे स्वादिष्ट व्यंजन बनाना आता नहिं । मुझे youtube पर एक video मिला जिसमें बहुत अच्छी तरीके से अनारसा बनाने की विधी बताई गयी हैं । हालाकि ये बहुत संयम के साथ करने वाला पदार्थ है और इसमें बहुत वक्त लगता है परंतु मैंने इसे बनाने का निश्चय कर लिया था तो मैं इसे बनाने में लग गयी । मैंने जो steps follow किये वो मैं आपके साथ share करती हूं ।

अनारसा बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

१. एक कप चावल
२. घी / तेल
३. खसखस
४. गुड़ पावडर

अनारसा बनाने की विधी

१. एक कप चावल ( अगर पुराने चावल है तो बहुत अच्छा ) एक कटोरी में धो कर तीन दिन पानी में भीगोकर रख दे । हर एक दिन पानी को बदलते रहिए ।

२. तिसरे दिन चावल को थोडा smell आएगा लेकीन चिंता की आवश्यकता नहिं । यह normal है । अब इनका सारा पानी निकालकर सुखाने के लिए सुती कपडे पर फैला दिजिए । ( ध्यान रहें चावल घर में हि सुखाने हैं । इन्हें बाहर धूप में मत सुखाना । कपडे के नीचे आप पेपर डाल सकते है ताकी पानी absorb हो सके ) चार पांच घंटे में ये अच्छी तरह सुख जाएंगे ।

४. चावल को mixer में दो तीन बार पीसकर लेना है । एकदम soft बारीक पाउडर बनानी है ।

५. एक कप चावल के लिए आधा कप गुड़ पावडर लेकर चावल के आटे में धीरे धीरे मिलाईए । ( ध्यान रहे एकदम ज्यादा गुड़ मत डालिए वरना आटा पतला हो जाएगा ) इसका आटा गूंद ले । ( पानी या दूध का इस्तेमाल मत किजिए )

६. गुंदे हुए आटे को तीन चार हिस्सो में बांटकर एक प्लॅस्टिक के डिब्बे में चार पांच दिन हवाबंद करके रख दिजिए ।

७. कुछ दिन पश्चात आटे को बाहर निकालकर उसकी छोटी-छोटी लोई बना लें और उन्हें खसखस के ऊपर रख कर घुमा लें, जिससे उनके चारों ओर खसखस लिपट जाए । गोल चपटि आकार में इन्हें बनाइये ।

८. इसके बाद एक कढ़ाई में घी गरम करें । घी गरम होने पर आंच मीडियम कर दें और उसमें अनरसा डाल कर उलट-पुलट कर हलका सुनहरा होने तक तल लें ।

९. स्वादिष्ट अनारसा तैय्यार है ।

मित्रों , मैंने अपनी मनपसंद चीज बनाकर घरवालों के साथ share कि और दिवाली का आनंद द्विगुणित किया । मेरे बनाएं अनारसे सबको बहुत पसंद आएं । मैं आशा करती हूं , मेरे अनुभव से inspire होकर आप भी इस दिवाली अवश्य आपका मनपसंद व्यंजन बनाएंगे और दिवाली फराल का आनंद लेंगे 🙂

संयम और आंतरीक ईच्छा शक्ती के बल पर मनुष्य कठिण से कठिण काम भी सहजता से पूर्ण कर सकता है यहि सीख मैंने अपने स्वयं के अनुभव से प्राप्त की ।

❤️ Happy Diwali ❤️

Pay Anything You Like

Amruta

Avatar of amruta
$

Total Amount: $0.00