मेहमान या पड़ोसी ———
लगभग एक महीने (7मार्च )से गोल्डी अपने दोनों बच्चों टॉफी और कॉफी के साथ आश्रम में है।गोल्डी को पास वाले घर में टहलते हुए देखा जा सकता था क्योंकि वह पहले वही रहती थी।
गोल्डी के साथ ऐसा क्या हुआ कि वह वापिस नहीं गई ?
ऐसा अनुमान है कि भोजन की कमी के कारण वह नहीं गई, आप देख सकते हैं कि वह कितनी कमजोर दिखाई दे रही है ।मेहमान या पड़ोसी 😍 2अब वह स्वस्थ है।मेहमान या पड़ोसी 😍 3
लेकिन फिर भी वह दोनो बच्चो के भोजन करने के बाद ही भोजन करती है।
वाह—— माँ का प्रेम 🤗🤗🤗🤗😍
टॉफी अधिकतर अपनी मां के साथ ही रहता है परंतु कॉफी——-वह हमारे कमरे के बाहर दरवाजे के पास ही बैठा रहता है और मेरे जूतों के ऊपर ही सो जाता है।मेहमान या पड़ोसी 😍 4
मानो कह रहा है, कि मेरी अनुमति के बिना कमरे से बाहर नहीं जाओगे। शाम के समय कॉफी को मेरे जूतों के साथ खेलना बहुत पसंद है इसलिए वह मेरे जूते छीन लेता है ।मेहमान या पड़ोसी 😍 5 मेहमान या पड़ोसी 😍 6
कभी-कभी उसको देखकर टॉफी भी ऐसा ही करता है।मेहमान या पड़ोसी 😍 7
एक दिन देखा——- कि वह दोनों कभी- कभी बेवजह चिल्लाने लगते हैं बहुत दिनों बाद समझ आया कि उनके बालों में पिस्सू ( कुत्तों के कीड़े) हैं । जब वह काटते होगे तभी वह रोते हैं। इसलिए दोनो को विशेष शैंपू से नहलाया गया।मेहमान या पड़ोसी 😍 8मेहमान या पड़ोसी 😍 9मेहमान या पड़ोसी 😍 10 और बाद में गर्म दूध पिलाया गया।
कॉफी को नहाना पसंद आया परंतु टॉफी ने शुरू में शोर मचाया । मेहमान या पड़ोसी 😍 11नहलाने के बाद उनके शरीर के घाव स्पष्ट देखे जा सकते थे।
तब हमें समझ आया ——कि वह अपने बालों को दातों से क्यों खींचते रहते हैं ?तब से दोनो को दिन में दो-तीन बार दवाई लगाई जा रही है।
कॉफी 2 दिन से बहुत सुस्त लग रहा था ।अचानक उसकी जोर जोर से रोने की आवाज सुनकर दिल कांपने लगता है क्योंकि उसके पीछे के एक पैर में दर्द होने के कारण वह ठीक से चल नहीं पाता ।मेहमान या पड़ोसी 😍 12
कल तो वह अपने स्थान से हिल भी नहीं सका । भोजन भी उसके पास ही दिया।परंतु—— दर्द और तकलीफ में भी वह प्रेम से पूंछ हिलाना नहीं भूलता।😍 क्या -?——हम मनुष्य ऐसी अवस्था में किसी से प्रेम जताते हैं ? शायद नहीं——-😔 यह विशेष गुण केवल पशुओं में ही है।(मुझे ऐसा लगता है) ।
दर्द निवारक दवाई से कॉफी को शाम तक कुछ आराम आ गया परंतु दर्द में भी वह सोता हमारे कमरे के सामने ही है। दरवाजा खुलने की आवाज सुनते ही वह गर्दन उठा कर देखता अवश्य है परन्तु पैर में दर्द होने के कारण तुरंत उठ नहीं पाता।
आशा है — भगवान की कृपा से वह दो-तीन दिन में ठीक हो जाएगा ।
सुबह 7:00 बजे से शाम के 5:00 बजे के अंतराल में वह मेरे साथ ही रहता है ।
जब हम गौशाला में गऊमाता को सब्जी खिलाने जाते हैं तो भी वह हमारे साथ जाता है।उसकी मासूम सूरत सबको लुभाती है।मेहमान या पड़ोसी 😍 13
कल गौशाला का दरवाजा बंद होने पर सब रोनी सूरत बना कर वहीं खड़े रहे।मेहमान या पड़ोसी 😍 14 मेहमान या पड़ोसी 😍 15 मेहमान या पड़ोसी 😍 16
एक रात लगभग दस बजे दोनो की रोने की आवाज़ सुनी ——तो देखा कि दोनो दरवाजा खुलवाने के लिए रो रहे है तब दोनो अन्दर लेकर आये । गुनगुना दूध पिलाया ,कुछ समय उनके साथ खेले तब शान्त होने पर कुछ समय बाद गोल्डी के पास छोड दिया ।
ऐसे है इस वर्ष के मेहमान ——☺☺☺☺☺😍😍

Pay Anything You Like

Karuna Om

Avatar of karuna om
$

Total Amount: $0.00