Translation is given below..

—-मैं बच्चों के संग फिर से बचपन जी लेती हूं—-

मैं बच्चों के संग फिर से बचपन जी लेती हूं….

उनसे लड़ती हूं, झगड़ती हूं, रूठती हूं और फिर मान भी जाया करती हूं…
लाड़-प्यार में उन्हें कन्धे पर बिठाती हूं,खूब खेलती हूं और हंसाती हूं….
गुस्सा चाहे कितना भी आए उन पर ,लेकिन कुछ समय बाद उन्हें कसकर गले लगा लेती हूं…..
मैं बच्चों के संग फिर से बचपन जी लेती हूं………

—–(अनाईशा) 1वर्ष के बच्चे की नादानी, बेसमझी और ज़िद्दी स्वभाव को देखती हूं,
खुश रहना, कुछ नया सीखना और गिर-गिर कर संभलना भी उससे ही तो सीखती हूं….

—–(नकुल) 3 वर्ष के बच्चे की शरारतें और बातें अक्सर जिंदगी के खूबसूरत लम्हों में शामिल कर लेती हूं…❤️
उसकी चतुराई, होशियारी और हाजिर-जवाबी से मैं हर बार अचंभित रह जाती हूं…

(क्रिश) 6 वर्ष के बच्चे की तो मैं खेल-खेल में जम कर पिटाई करती हूं😂, गलती करने पर उसको खूब सबक सिखा देती हूं….0_0
झूठ बोलने पर उसके मैं अक्सर रूठ जाती हूं, लेकिन उसकी एक माफी पर ,दो थप्पड़ लगाकर उसको फिर बुला भी लेती हूं….😜

एक दिन भी अगर ना देखू बच्चों को, दिन सूना-सूना लगता है..
कैसा बंधन है उन बच्चों संग मेरा जो केवल “प्यार” से ही बनता है…❤️❤️
अपने बचपन को मैं बहुत याद करती हूं,🌼🌼
इसलिए तो इन बच्चों के संग फिर से बचपन जी लेती हूं….

—-शिवानी पुरी—-

  • मैं बच्चों के संग फिर से बचपन जी लेती हूं(i live my childhood again with children)🌼❤️ 1

—–I live my childhood again with children—-

I live my childhood again with children….
I fight with them, I quarrel, I get angry and then I agree…
I carry them on my shoulder, play a lot and laugh.
No matter how much anger comes on them, but after some time I hug them tightly.
I live my childhood again with children………

—-(Anaisha) I see the ignorant, foolish and stubborn nature of a 1-year-old child,
To be happy, to learn something new and also to recover from falls,
I learn from her….

—-(Nakul) The pranks and sayings of a 3-year-old child are often included in the beautiful moments of my life…. …….. Every time i amazed by his cleverness, smartness and wit…😯

—–(Krrish) I beat up a 6 year old child fiercely in fun, I teach him a lot of lessons when he makes a mistake…..0_0
I often get angry with him for lying, but on one of his apologies, I call him again after slapping him.😜

Even if I don’t see the children for a day, the day seems deserted..
What kind of bond do I have with those children, which is formed only by “love”…❤️❤️
I miss my childhood too….
That’s why I live my childhood again with these children🌼✨💫

Pay Anything You Like

Gorvi Sharma

Avatar of gorvi sharma
$

Total Amount: $0.00