धड़क रहा है हर एक शय मैं

हर एक मंज़र से झाँकता है

उस्की हस्ती का अक्स हूं मैं

वो मेरे अंदर से झाँकता  है#1 1

know the truth, the truth will set you free.

                                                                                                                                                                                           

Pay Anything You Like

komal aum

Avatar of komal aum
$

Total Amount: $0.00