–-☆जिंदगी☆–

एक अनसुलझी पहेली है ये जिंदगी ,

सुलझने का न कोई राह ना
उम्मीद,

लम्हों से बनती है ये जिंदगी ,

हर लम्हें का हिसाब-किताब करती है
ये जिंदगी,

कभी रूलाती है, कभी हंसाती है‌ और..

कभी अनसुलझे सवालों में उलझाती
है ये जिंदगी,

कहीं गलतीओं के एहसास कराती है ये जिंदगी…

__--☆जिंदगी☆--__ 1

और कभी कुछ नया सिखा जाती है ये जिंदगी,

कभी अतीत की गलतियों को याद दिलाती है,

और जीने के नये तरीके सिखाती
है ये जिंदगी,

जीवन के हर मोड़ पर सबक
सिखाती हैं ये जिंदगी,

ख्वाहिशों की एक अद्भुत कहानी
है ये जिंदगी….

__--☆जिंदगी☆--__ 2

वो ख्वाहिशें जो कभी परियों सी

सुहानी लगने लगती हैं,

और कभी रास्ता भटके मुसाफ़िर
सा लगने लगती हैं,

खुद में ही उलझी पहेली है ये
जिंदगी,

क्या बताऊँ एक अनचाहा
हमसफ़र है ये जिंदगी…….

क्या बताऊँ एक अनचाहा
हमसफ़र है ये जिंदगी…….

__--☆जिंदगी☆--__ 3

शिवानी पुरी(. ❛ ᴗ ❛.)—☆

यह मेरी लिखी हुई पहली कविता है,यह मैंने 18 वर्ष की आयु में लिखी थी… इस कविता को लिखे आज 2 वर्ष हो गए हैं… जिंदगी को समझना और इसे बेहतर ढंग से जीना बहुत मुश्किल है…. जिंदगी शब्द अपने आप में अधूरा सा लगता है…. क्योंकि इसे समझना कठिन है…. हालांकि इस शब्द का एक ही अर्थ होगा… लेकिन हर व्यक्ति के अनुसार इसका मतलब और महत्व अलग-अलग होगा…

इस शब्द के साथ हमारी भावनाएं जुड़ी होने की वजह से इस शब्द का अर्थ सब की जिंदगी में अलग-अलग होता है…

यदि “जिंदगी” शब्द को भावना के साथ जोड़ा जाए तो प्यार, झगड़ा, अपनापन, बातें, किस्से-कहानियां,पल, विरोध, सहायता, देखभाल, गुस्सा, खुशी, तकलीफ़, अभाव, बदलाव, अनुभव, वर्तमान, भूतकाल, भविष्य, नाराज़गी, फिक्र, हिम्मत, ममता, बहादुरी, बिखराव, मस्ती, दयालुता, रोना, हंसना, रिश्ते, दोस्ती, धोखा, बर्बादी, हंसी, परिवर्तन, परिस्थितियां, अमीरी-गरीबी और ऐसे कितने ही शब्द इसमें जा समाएंगे……..

जिंदगी की प्रवृत्ति ही ऐसी है….. और परिवर्तन इसका नियम…. इसमें हर पल बदलाव आता ही रहता है….

जिंदगी को जीने का कोई एक ढंग नहीं है बस अनुभव ही आपको जिंदगी जीने के नए तरीके सिखाता रहता है…जिंदगी में कभी-कभी ऐसे क्षण भी आते हैं जब हमें जीना मुश्किल लगता है और हमारा कोई साथ भी नहीं देता लेकिन हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि जीवन का नियम है परिवर्तन, इसमें बदलाव आता रहता है, इसलिए आप की परिस्थितियां भी बदल जाती हैं लेकिन उसमें थोड़ा समय लगता है ,

हमें चाहिए कि हम धीरज रखें और हिम्मत बनाए रखें और जीवन के उस मुश्किल पड़ाव को पार कर जाएं…..जीवन में कठिन बस यही है कि उसके पड़ावों को पार करना….. जो व्यक्ति हिम्मत और अपने मन की शक्ति से उस पड़ाव को पार कर जाता है वह जीवन को समझ जाता है और उस पड़ाव में जीत हासिल करता है….

  1. जिंदगी हमें समय अनुसार सबक भी सिखाती हैं और हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा भी देती रहती है, यह हमें हमारी मेहनत का फल भी देती है और हमारी गलतियों की सज़ा भी…..

मेरी उम्र अभी सिर्फ 20 वर्ष है इसलिए मुझे ऐसा लगता है कि मैंने जिंदगी को भी पूरी तरह समझा नहीं है, अभी मेरे अनुभव भी कम है ……मैंने गलतियां भी बहुत की है और उसे सीखा भी बहुत है लेकिन फिर भी अभी बहुत कुछ सीखना बाकी है..….. मैं कभी भी जिंदगी में किसी भी मोड़ पर हार नहीं मानती चाहे वह कितना ही मुश्किल क्यों ना हो……

यह बात तो माननी ही पड़ेगी कि जिंदगी को समझना बहुत ही मुश्किल है लेकिन हमें कोशिश करते रहना चाहिए और इसे बेहतर बनाने के लिए हमें प्रयास जा़री रखने चाहिए और हार नहीं माननी चाहिए…..

आशा करती हूं कि आपको मेरी कविता और आपको मेरी बातें अच्छी लगेंगी….

आप सभी ऐसे ही अपने जीवन के अनुभव और जिंदगी का महत्व मेरे साथ सांझा करें और ऐसे ही हम एक दूसरे को और समझने की कोशिश करते रहेंगे और एक दूसरे की मदद करेंगे और एक दूसरे को बेहतर बनाने की कोशिश करते रहेंगे….

मुझे भी आप सब से बहुत कुछ सीखना है और जिंदगी में आगे बढ़ना है, इसलिए आप भी मेरी मदद करें…🙇‍♀️🙇‍♀️

आप सब का बहुत-बहुत धन्यवाद🙏🙏

मुझे आपके सहयोग की बहुत जरूरत है🙏🙏

Pay Anything You Like

Gorvi Sharma

Avatar of gorvi sharma
$

Total Amount: $0.00