Sitting behind the calculations one has to undergo certain type of rigorous efforts to make it foolproof example of real success otherwise it will remain theoretical idea for the posterity to implement. It is good to give new ideas to those who are not able to project them on their own. It is a society which is grossly average, undersize by ninety percent, only ten percent razor sharp mind has to nourish the ninety percent by giving them directions, solutions to implement. Only then the rest average happen to do them with certain ease. An average mind has always built in physical valour and strength by nature when we see mostly, the intellectual few are feeble in their buildup, may they are mentally healthy. So nature always has some sort of equilibrium. Gross mind act grossly while sharp mind work mentally. Mental strength has to accumulate from some unseen force, that will flow smoothly with spiritual awakening. That is why spiritual awakening should be natural priority of those who can work mentally better than the average mind.

मानसिक स्वास्थ्य के साथ शारीरिक की तुलना करें (यादृच्छिक विचार)

गणनाओं के पीछे बैठकर इसे वास्तविक सफलता का एक मूर्खतापूर्ण उदाहरण बनाने के लिए कुछ प्रकार के कठोर प्रयासों से गुजरना पड़ता है अन्यथा इसे लागू करने के लिए यह सैद्धांतिक विचार रहेगा। जो अपने दम पर उन्हें प्रोजेक्ट नहीं कर पाते उन्हें नए आइडिया देना अच्छा है। यह एक ऐसा समाज है जो स्थूल रूप से औसत है, नब्बे प्रतिशत से कम आकार का है, केवल दस प्रतिशत उस्तरा तेज दिमाग को नब्बे प्रतिशत को दिशा-निर्देश, कार्यान्वयन के समाधान देकर पोषण करना है। तभी बाकी औसत उन्हें निश्चित आसानी से कर पाते हैं। एक औसत दिमाग ने हमेशा शारीरिक वीरता और स्वभाव से ताकत का निर्माण किया है, जब हम ज्यादातर देखते हैं, कुछ बुद्धिजीवी अपने बिल्डअप में कमजोर हैं, वे मानसिक रूप से स्वस्थ हों। इसलिए प्रकृति में हमेशा किसी न किसी तरह का संतुलन होता है। स्थूल मन स्थूल रूप से कार्य करता है जबकि तेज दिमाग मानसिक रूप से कार्य करता है। किसी अदृश्य शक्ति से मानसिक शक्ति का संचय करना होगा, जो आध्यात्मिक जागृति के साथ सहज रूप से प्रवाहित होगी। इसलिए आध्यात्मिक जागृति उन लोगों की स्वाभाविक प्राथमिकता होनी चाहिए जो औसत दिमाग की तुलना में मानसिक रूप से बेहतर काम कर सकते हैं।

Pay Anything You Like

Behari Chauhan

Avatar of behari chauhan
$

Total Amount: $0.00