Jai Shri Hari. Sastang Dandavat at your lotus feet Swamiji. We have a night queen plant in our garden and is in full bloom now. The smell is so attractive that it blows our mind away. At night-time, in our bedroom, the fragrance makes us sleep in a calm and soothing environment. But the irony is that as soon as the dawn breaks, the glorious flowers start falling down.

This just made me think about all our lifetime. In our entire life, most of us are like the night queen who remain in dark (about spirituality), but when the light comes, we cannot recognize and disintegrate. Again, we take birth and the life cycle goes on and on and on…

The following is a poem written in Hindi by a non-Hindi based fellow, that is me! Please forgive me for any mistakes.

रात की रानी

ओ रात की रानी, क्यों तू खिलती है,

जब मुरझाना ही है, तोह क्यों मुस्कुराती है;

रातों  को  खिल  के खुसबू देती है,

पर सुबह होते ही निचे गिर जाती है;

कितने दीवाने, चाहने वाले हैं तेरे,

मुरझा जाने से दुखी होते हैं सारे;

रातों के अंधेरों में क्या तुझे डर नहीं लगता?

भला सूरज के आते ही क्या गलत हो जाता?

रौशनी से पूरी दुनिया खिल उठती है,

पर नजाने क्यों तू उल्टा करती है!

हम सब अँधेरे में  ही पनप रहे  हैं,

मोह  माया  की  यह  दुनिया  में  खुस  रहते  हैं ;

परिवार  और  घर  को  अपना  कहते  हैं ,

तेरी  तरह  ही  अँधेरे  में  खुस  रहते  हैं ,

लेकिन  जब  सुबह  होती  है  और  उजाला  चमकती  है ,

तोह  अपने  आप  को  देख  पाते हैं ;

किस  के  पीछे  भाग  रहे  थे  सोचते  रहते  हैं ,

जिसका  ध्यान  करना  था  उसको  तोह  भूल  गए ,

जिंदगी  के  हर  पल  तोह  ऐसे  ही  बिखर  गए ;

जब  ऊपर  से  बुलावा  आता  है , तोह  सोचते  हैं

जीवन  में  हमने  किया  क्या  दूसरों  के  लिए

जवाब  नहीं  मिलता  है  रात  रानी  की  तरह ,

इसीलिए  तोह  मुरझा  जाते  हैं ;

न होती है मन में शांति ,

ना  ही  भगवन  के  चरणों  में  जगह  मिलती  है ,

रात  रानी  की  तरह  निचे  गिर  जाते  हैं ;

अँधेरे  में  यूँही  डूबे  रहते  हैं ,

यही  हकीकत  होती  है  हमारी ,

ऐसे  ही  चलती  है  दुनिया  सारी;

जबतक  उजाले  की  समझ  आती  है ,

तब  तक  जिंदगी  गुज़र  चुकी होती है.

The featured photo is of the quintessential night queen plant from our garden. It was planted in 2017 when we moved to the current house. Jai Shri Hari… And a big Thank you to all.

Pay Anything You Like

Biswa Nanda

Avatar of biswa nanda
$

Total Amount: $0.00