स्वामीजी की सेवा लीलाओं में हम सब स्वामीजी की सेना हैं. जो भाग्यशाली  अधिक  आध्यात्मिक सम्पदा अर्जित किये हुए थे वे इस लीला में black commando चुन लिए गए. उन्हें अलग अलग कार्य भार सौंपा गया.  कुछ को उन सेवा कार्यों के सीईओ पद से  नवाज़ा गया, कुछ को साध्वी जी एवं छोटे स्वामीजी के रूप में स्वामी जी का सामीप्य प्राप्त हुआ .  🥰🥰🥰.  और हम भी कुछ कम नहीं चूंकि हम हैं स्वामीजी की गिलहरी सेना 🥰🥰🥰. हम सब अपनी अपनी भूमिका सम्पूर्ण निष्ठा से अदा कर रहे हैं और लीलाओं का आनंद ले रहे हैं.

साधना ऍप को promote करते हुए इस समय के मेरे विचार कुछ  इस प्रकार हैं (वैसे विचार एक बदलते रहने वाली प्रक्रिया  हैं, hence need not be given seriousness. जो अच्छा लगे उसे अपना लो जो बुरा लगे उसे जाने दो .🥰)

Spirituality flourishes with exchange of thoughts 🥰.

पहला विचार  – 

–  स्वामीजी आप हैं 

 “लीलाकृळ्प्त ब्रह्माण्डमण्डला”   🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️

सो आपने साधना ऍप  का निर्माण कर्म सम्पूर्ण किया  और जन साधारण को समर्पित कर दिया .  आपके द्वारा कृत कर्म तो युगों युगों तक, न जाने कितनी generations को लाभ देने में सक्षम हैं. आपकी हम सब – गिलहरी सेना, और आपके सीईओ- Black Commando, – हम सब   आपके  द्वारा सौंपी गई जिम्मेदारी सँभालने को अति उत्सुक हैं और  तत्काल फल प्राप्ति को भी  उत्सुक हैं.

हमें कभी कभी याद करवा दीजिये की हम सब तो निमित्त मात्र हैं आपके ” लीला कृप्तब्राह्मण्ड मण्डला ” के इस खेल में. हमें फल प्राप्ति नहीं, बस सेवा कर्म पर ध्यान देना है.

करेंगे न प्रभु 🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️

दूसरा विचार  – 

कहते हैं  घोड़े को पानी तक तो ले जा सकते हैं किन्तु जबरदस्ती पानी पिला नहीं सकते.  उससे भी अधिक effective होगा यदि घोड़े में पानी की प्यास जगा दी जाए. तो वह स्वयं ही पानी जरूर ढूंढेगा, उसके पास भी खुद ही जाएगा और खुद ही पानी पीयेगा भी.

शायद आध्यात्मिक सेवा कार्य भी इसी दिशा में  अधिक प्रभावी होंगे. देखिये यदि हम साधना ऍप हर phone तक पहुंचा भी  दें  तो यह होगा हर घर में भगवान की तस्वीर पहुँचाने जैसा.  आज हर हिन्दु परिवार में भगवान विराजमान हैं. कहीं तस्वीर, कहीं मूर्ति, कहीं अन्य  स्वरुप में.  उनसे बातें कितने लोग कर पाते हैं!!!!!!मैं क्या कहना चाह रही हूँ उसे विस्तार की आवश्यकता नहीं. 

मेरा मानना है कि यदि प्यास जाग जाए, तो ही  साधना ऍप का प्रभाव  समाज में दिखेगा.  numbers  तो बस numbers हैं, आध्यात्मिक जगत में.

ऐसे  में, स्वामीजी का ज्ञान – blogs, You Tube, Books, Apps के  द्वारा – जब मानस पटल पर प्रभाव छोड़ता है तब जगती है वो प्यास. व्यक्ति स्वामीजी से जुड़ी एक एक चीज़ का दीवाना हो उठता है. और तब आरंभ होती है साधना……

और साधना कर पाना  इतना भी आसान नहीं. बहुत यत्न, एवं बहुत सारी प्रभु कृपा (Grace ) का संयोग हो तो ही कोई साधक बन पाता है.

गुरु गोविन्द सिंह जी ने सवा लाख से एक लड़ाया था 🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️. मुझे भी पहले स्वयं स्वामी जी की सेना का ऐसा एक सिपाही बनना है जिसे वे चाहें तो सवा लाख , चाहें तो सवा करोड़ के सम्मुख खड़ा कर पाएँ.

बनायेंगे न प्रभु 🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️

तीसरा विचार –

महान कार्यों का प्रभाव दिखाने में समय की गति भी अपना कार्य कर रही है. Black Lotus App भी धीरे धीरे आगे बढ़ी, ऐसे ही साधना app भी बढ़ेगी.

धीरे धीरे रे मना  धीरे सब कुछ होय

माली सींचे सौ घड़ा, रुत आये फल होय

एक और छोटी सी बात . हमारी प्यारी सी, नन्ही सी Black Commando जो Sadhna App की सीईओ की भूमिका संभाल रही हैं, 70% revenu loss को ज़्यादा seriously न लें. हमारे सर्वे सर्वा स्वामीजी की छत्रछाया में बस हर सेवा का आनंद लें. उनकी लीला कौन समझे . कौन जाने क्यों वे revenu loss वाली लीला कर रहे हैं. भगवान और भक्त के बीच भी खेल होता रहता है .  न जाने वे किस भक्त की कौन सी मानसिक ग्रंथि (conditioning ) खोलने के लिए यह कर रहे हैं . आपने और मैंने, एवं कई अन्य ने स्वयं स्वामीजी की शक्ति का अनुभव किया है. वे बादल ला भी सकते हैं और बादल उड़ा भी सकते हैं. 🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️🙇🏼‍♀️

 Sadhna App तो मात्र एक औज़ार है आध्यात्मिक पथ पर. जिसे इसका उपयोग करना आता होगा वह अवश्य ही इसके रख रखाव में भी सहभागी बनेगा. 99% users को अभी वह सीखना है. मुख्य बात है आध्यात्मिक पथ पर बने रहना. धीरे धीरे सब सब सीख जाएंगे  सबमें वो प्यास जग जायेगी. सब दान का महत्त्व समझने लगेंगे. सब दान करने भी लगेंगे. 

अतः

सहज पके सो मीठा होये,  क्योंकि कुछ पेड़ों का फल कुछ ज़्यादा समय बाद आता है.

🙏🏼🙏🏼🙏🏼

जय श्री हरि   🥰🥰🥰🥰🥰

Pay Anything You Like

ANU OM

Avatar of anu om
$

Total Amount: $0.00