पंजीरी ——-(जन्माष्टमी विशेष)—
1. चार चम्मच गोंद (खाने वाले) को घी में धीमी आंच पर तले ।गोंद की पंजीरी 😋😋 2
2.सूखे नारियल को कद्दूकस कर लें या नारियल का बुरादा ले( आधा कटोरी)।
3. काजू (10),पिस्ता (10),बादाम (10)को बारीक काट लें ।
4.कढ़ाई में एक चम्मच घी डालकर काजू ,बादाम, पिस्ता व खरबूजे के बीज( दो चम्मच)को धीमी आंच पर चार- पांच मिनट सेके।गोंद की पंजीरी 😋😋 3
गैस बंद कर दें ।
5.नारियल का बुरादा डालकर 2 मिनट भूनें ।गोंद की पंजीरी 😋😋 4
6. एक कटोरी चीनी में आधा कटोरी पानी डाल कर दो तार की चाशनी बना लें ।
7.गोंद को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ कर नारियल के मिश्रण में मिला दे ।
8.अब यह सारा मिश्रण चाशनी में डालकर अच्छी तरह मिला दें।
9. गैस बंद करके मिश्रण को लगातार चलाते रहें।
10. जब मिश्रण की चाशनी सूखने लगे तो प्लेट ( प्लेट को घी से चिकना अवश्य कर लें )में यह मिश्रण फैला दें ।गोंद की पंजीरी 😋😋 5
पंजीरी को जमने में 15 से 20 मिनट का समय लगेगा ।कन्हैया को भोग लगाईयेगोंद की पंजीरी 😋😋 6,आशीर्वाद पाइये 🙏🙏😊😊
।।जय श्री हरि।।🙏🙏